Benefits of Honey | शहद के फायदे । Hindi | Beauty Tips of Honey

मधु या शहद जिसे अंग्रेजी में Honey कहते है | यह एक मीठा, चिपचिपाहट वाला पदार्थ होता है जो मधुमक्खियों द्वारा तैयार किया जाता है ।

Honey is a sweet, viscous food substance produced by bees and some related insects.

मधु या शहद जिसे अंग्रेजी में Honey कहते है | यह एक मीठा, चिपचिपाहट वाला पदार्थ होता है जो मधुमक्खियों द्वारा तैयार किया जाता है । शहद में जो मीठापन होता है वो मुख्यतः ग्लूकोज़ और फ्रुक्टोज के कारण होता है। शहद का प्रयोग औषधि रूप में भी होता है। शहद में ग्लूकोज व अन्य शर्कराएं तथा विटामिन, खनिज और अमीनो अम्लभी होता है जिससे कई पौष्टिक तत्व मिलते हैं जो घाव को ठीक करने और Tissues के बढ़ने के उपचार में मदद करते हैं। प्राचीन काल से ही शहद को एक जीवाणु-रोधी के रूप में जाना जाता रहा है। शहद एक hyper-osmotic agent होता है जो घाव से तरल पदार्थ निकाल देता है और शीघ्र उसकी भरपाई भी करता है और उस जगह के हानिकारक जीवाणु भी मर जाते हैं। जब इसको सीधे घाव में लगाया जाता है तो यह protective layer की तरह कार्य करता है और ऐसे में घाव संक्रमण से बचा रहता है।

 

Honey gets its sweetness mainly from the  fructose and glucose. Honey is also used in medicine form.The honey contains glucose and other sugars , vitamins, minerals and amino acids, which provides many nutritious elements that help in healing the wound and treating tissues.

प्राचीन काल से ही शहद को एक जीवाणु-रोधी के रूप में जाना जाता रहा है। शहद एक hyper-osmotic agent होता है जो घाव से तरल पदार्थ निकाल देता है और शीघ्र उसकी भरपाई भी करता है और उस जगह के हानिकारक जीवाणु भी मर जाते हैं। जब इसको सीधे घाव में लगाया जाता है तो यह protective layer की तरह कार्य करता है और ऐसे में घाव संक्रमण से बचा रहता है। शहद को antibacterial रूप में प्रयोग किया जाता है।

 

Since ancient times, honey has been known as a bacterial anticoagulant. Honey is a hyper-osmotic agent that removes fluid from the wound and quickly compensates it and the harmful bacteria of that place also die. When honey applied directly to the wound, it acts like a protective layer and thus prevents wounds from infection. Honey is used in antibacterial form.

इस प्रक्रिया में शहद के उत्पादन में काम करने वाली मधुमक्खियां Enzyme glucose oxidase को नेक्टर में बदल देती हैं। जब शहद को घाव पर लगाया जाता है तो इस एंजाइम के साथ हवा की ऑक्सीजन के संपर्क में आते ही बैक्टीरीसाइड हाइड्रोजन पर आक्साइड बनती है और इस प्रकार मधु से घाव भरते हैं |

 

Bees convert enzyme glucose oxidase to Nector ,when honey is applied to the wound, the oxides on the bactericide hydrogen form in contact with the oxygen of the air with this enzyme and thus the wounds are healed with honey.

इनके अलावा शहद के प्रयोग से सूजन और दर्द भी दूर हो जाते हैं। घावों या सूजन से आने वाली दुर्गंध भी दूर होती है। शहद की पट्टी बांधने से मरे हुए Tissue cells के स्थान पर नई cells आती हैं। इस प्रकार मधु से घाव तो भरते ही हैं और उनके निशान भी नहीं रहते।

honey , honey bee,bees,शहद,मधु,fructose,glucose,sugar,शर्करा,विटामिन,antibacterial, best diet,slim-trim,minerals

Other than that swelling and pain also get rid of honey.Odor coming from wounds or swelling are also removed. honey band gives new cells in place of dead Tissue cells.The wounds are healed with honey and they do not leave any marks.

मधु एक ऊष्मा व ऊर्जा दायक आहार है तथा दूध के साथ मिलाकर यह सम्पूर्ण आहार बन जाता है। इसमें मुख्यतः अवकारक शर्कराएं, कुछ प्रोटीन, विटामिन तथा लवण(Salts) उपस्थित होते हैं। शहद सभी आयु के लोगों के लिए श्रेष्ठ आहार माना जाता है और रक्त में हीमोग्लोबिन निर्माण में सहायक होता है।

” एक किलोग्राम शहद से लगभग ५५०० कैलोरी ऊर्जा मिलती है। “

 

Honey is a heat and energy consuming diet and combined with milk, it becomes a complete diet.Honey contains mainly avascular sugars, some proteins, vitamins and salts.Honey is considered to be the best diet for people of all ages and it is helpful in the formation of hemoglobin in the blood.

” One kilogram of honey provides about 5500 calorie energy. “

एक किलोग्राम शहद से प्राप्त ऊर्जा के तुल्य दूसरे प्रकार के खाद्य पदार्थो में ६५ अण्डों, १३ कि.ग्रा. दूध, ८ कि.ग्रा. मनुका, १९ कि.ग्रा. हरे मटर, १३ कि.ग्रा. सेब व २० कि.ग्रा. गाजर के बराबर हो सकता है। भारत में प्रति व्यक्ति प्रतिवर्ष शहद की खपत लगभग २५ ग्राम होती है जबकि अन्य देशों में इसकी खपत बहुत अधिक है।

 

Energy obtained from a 1 kilogram of honey is equivalent to 65 eggs, 13 kg. Milk, 8 kg Raisins, 19 kg Green peas, 13 kg Apples and Can be equal to 20 kg Carrots. In India per person consumption of honey is approximately 25 grams per year, whereas in other countries it is very high consumption.

भारत में इसे अभी भी औषधि के रूप में प्रयोग किया जाता है | शहद का सेवन करने के कई फायदे हैं जिनमें शरीर में ऊर्जा बढ़ाने से लेकर दमकती त्वचा और वजन घटाने तक के फायदे शामिल हैं। तो दोस्तों अगर आप अपने बढ़ते हुए वजन से परेशान हो चुके हैं और जिम जाने का समय नहीं है तो शहद का प्रयोग कर के आप बिल्कुल स्लिम-ट्रिम बन सकते हैं।

 

In India, it is still used as a medicine.There are many benefits of honey, such as increasing energy in body , swelling and weight loss.If you are upset with your growing weight and do not have time to go to the GYM , so simply using honey, you can become slim-trim.

Leave A Comment